गाय या भैंस-5

007

Rare Desi.com Administrator
Staff member
Joined
Aug 28, 2013
Messages
68,486
Reaction score
500
Points
113
Age
37
//tssensor.ru hot kahani सुनील बराबर सुधिया को अपने बाहों में ले के - 'मेरी प्यारी माँ' कहते हुए गालों पे किश कर देता था। पर वो माँ-बेटे वाली बात ही होती थी।

आज की मालिश के बाद सुधिया भी सोच में थी और उधर सुनील भी। शाम में सुधिया किचन में खाना बना रही थी। मधु ने सुनील को बोलै की जा जाके अपनी दूधिया को पकड़ ले।

loading...

सुनील ने अपनी माँ को पीछे से बाहों में लेके उनके विशाल स्तनों को हाथों से धीरे धीरे मसलते हुए बोला- माँ क्या बना रही हो?
सुधिया: क्यों बेटा (सुधिया हालाँकि असहज थी सुनील के स्तनों को छूने से पर उसने कुछ बोला नहीं)
सुनील: माँ, बस यूँही (सुनील ने खुद को और ज़ोर से सुधिया से चिपका लिया और अपने बाहों की गिरफ्त मजबूत करते हुए उसके स्तनों को जोर-जोर से मसलने लगा)
तभी मधु भी किचन में आ गयी
मधु: क्यों छेड़ रहा है माँ को, चल इधर आ जा! देख नहीं रहा वो काम कर रही है।
(फिर सुनील ने वहीं मधु को वैसे ही जकड़ लिया और सुधिया के सामने ही मधु के स्तनों को रगड़ने लगा। वो मधु के गालों को चुम रहा था और प्यार से उसे मधु बुला रहा था।)

मधु: माँ, देखो न कितना तंग करता है।
(सुधिया काफी अचंभित थी उसे तो बस ये भाई-बहिन का प्यार लगता था पर उसे शक होने लगा की सुनील वकाई उन्दोनो के बदन का आशिक हो चूका था। पर वो खुल के ये बात भी नहीं करना चाहती थी।)
सुधिया: बेटे, रहने दे अब। बाद में दीदी को प्यार कर लेना।

सुनील: माँ, मुझे मधु बहुत अच्छी लगती है। फिर सुनील ने मधु को सीधे करके उसके होठों को खुद के होठों से चूसने लगा। मधु भी सुनील का साथ देने लगी। दोनों अपने माँ के सामने ही एक दुसरे को चूमने-चाटने लगे। फिर सुनील ने मधु के टॉप को खोलना सुरु किया। तब मधु ने उसे रोका और बोला - चलो अंदर चलते हैं माँ को दिक्कत होगी।

(सुधिया पूरे तरह से घबरा गयी थी अब, उसे पता चल गया था की दोनों के बीच सब-कुछ हो चूका है, पर उसने कुछ बोला नहीं।)

सुनील: माँ, मुझे मधु बहुत अच्छी लगती है। फिर सुनील ने मधु को सीधे करके उसके होठों को खुद के होठों से चूसने लगा। मधु भी सुनील का साथ देने लगी। दोनों अपने माँ के सामने ही एक दुसरे को चूमने-चाटने लगे। फिर सुनील ने मधु के टॉप को खोलना सुरु किया। तब मधु ने उसे रोका और बोला - चलो अंदर चलते हैं माँ को दिक्कत होगी।

(सुधिया पूरे तरह से घबरा गयी थी अब, उसे पता चल गया था की दोनों के बीच सब-कुछ हो चूका है, पर उसने कुछ बोला नहीं।)

सुधिया तुरंत उन्दोनो के पीछे उनके कमरे तक आयी- अंदर सुनील मधु को नंगा करके उसके ऊपर चढ़ा हुआ था और उसके बदन की हुमच-हुमच के चुदाई कर रहा था। दोनों एक दुसरे से चिपके हुए थे। सुनील मधु को सुधिया बुला रहा था और मधु सुनील को बेटा। (सुधिया चौंक गयी ये सुन के, उसे काफी घबराहट होने लगी, उसे अफ़सोस हो रहा था की उसने ये समय रहते नहीं रोका था सुनील को)। सुनील ने मधु को करीब आधे घंटे तक चोदा फिर दोनों हाँफते हुए एक दुसरे की बाहों में निढाल हो गए। (सुधिया ये सब कमरे के गेट पर खड़ी देख रही थी और उसे यकीन नहीं हो रहा था जो उसने अभी अभी देखा था। फिर वो वहां से वापस किचन आ गयी और खाना बनाने में लग गयी)

खाना बनाने के बाद सुधिया ने दोनों को आवाज़ दिया। सुनील मधु को बाहों में कैसे हुए डाइनिंग चेयर पे बैठ गया। उसने मधु को अपने गोदी में बिठा लिया और उसके स्तनों को मसलता हुए उसके होठों को चूसने लगा। सुधिया ने उनके सामने खाना लगाया और फिर सुनील अपने हाथों से मधु को खिलाने लगा। सुधिया बिलकुल कमज़ोर महसूस कर रही थी खुद और वो कुछ बोल नहीं पायी।
मधु: माँ, देखो न! खाने भी नहीं दे रहा है।
सुधिया: दीदी को खाने दे बेटे, फिर प्यार कर लेना।
सुनील: मैं खिला तो रहा हूँ अपनी मधु को।

खाना-खाने के बाद सुनील मधु को वापस अपने कमरे में ले गया और दोनों एक दुसरे से चिपके बिस्तर पे लेट गए।

कुछ देर बाद श्याम घर आ गए और घर आते ही श्याम ने मधु को आवाज़ दी। सुनील ने मधु को जाने दिया। मधु ने टॉप और हाफ पैंट डाले श्याम के पास आ गयी और बोली: बाबूजी आपने बुलाया?
श्याम: (मधु को अपनी गोदी में बिठाते हुए): हाँ बेटी, इधर बैठो।
मधु को उन्होंने अपने जांघ पर बिठाया। श्याम ने लूंगी डाल राखी थी और अंदर कुछ नहीं पहन रखा था। लूंगी को थोड़ा खोलते हुए उन्होंने मधु को अपने नंगे jaanghon पे बिठा के उसके गालों पे जीभ लगते हुए बोला: बेटी तुम्हारा man तो लग रहा है न यहाँ? (फिर श्याम ने मधु के टॉप के ऊपर के दो बटन खोल दिए और बोला की बेटी हलके कपड़े पहना करो, आजकल खूब गर्मी हो रही है। टॉप के बटन खोलने से मधु के स्तन काफी बाहर आ गए थे। फिर श्याम ने उसके स्तनों को मसलते हुए बोला की बेटी राहुल तुम्हे अच्छे से प्यार नहीं करता था न! वो तो अपनी माँ के ही बदन से चिपका रहता होगा। खैर हम हैं हमारी बेटी से प्यार करने के लिए। क्यों बेटी?

तभी सुधिया उनके पास खाना लेते हुए आयी। श्याम ने मधु के हाफ पैंट को ऊपर तक उठा दिया था उसके जांघ पूरे नंगे थे और stan वैसे भी आधे बाहर तक थे। सुधिया ये देख के सहम गयी। पर वो श्याम को कुछ बोल नहीं सकती थी। तो उसने अनजान बनाते हुए बोला: क्या बात हो रही है बाप बेटी में, जरा मैं भी तो सुनूं?

श्याम: सुधिया, मैं मधु बेटी से कह रहा था की उसे बहुत प्यार नहीं मिला है अभी। पर हम किसलिए हैं। बेटी पूछ लो अपनी माँ से हम कितना प्यार करते हैं।
सुधिया: हाँ बेटी, तेरे बाबूजी चाहते हैं तू खूब ख़ुशी से रह यहाँ पे। जा अब अब कमरे में, बाबूजी को खाना खा लेने दे।

मधु तुरंत वहां से उठ के अपने कमरे को चली गयी। सुनील ने मधु को देखते ही उसे अपने बाहों में कस लिया और उसके होठों को चूसते हुए बोला- बाबूजी के पास सुधिया तो है ही, फिर तुझे प्यार करने की बात क्यों कह रहे थे।

मधु: क्यों, वो बाबूजी हैं, वो भी प्यार कर सकते हैं। तू भी तो उनकी सुधिया को प्यार करना चाहता है, वो भी तुम्हारी मधु को पसंद करने लगे हैं।
 

Users Who Are Viewing This Thread (Users: 0, Guests: 0)


Online porn video at mobile phone


গুদ পাগল ছেলে Choti golpoமுடங்கிய கணவருடன் சுவாதியின் வாழ்க்கைBanglachoti বাসে আমার সামনে বউকে গণচোদাmob മലയാളം ഫാമിലി incest ആന്റി sex സ്റ്റോറീസ് பணத்திற்காக பெண்கள் ஓக்கும் படுக்கும் காம கதைதங்கையின் புண்டையில்ஐயர் மாமிகள் நிர்வாணப்படங்கள் తన చేతుల మీదగా తన కుడి చేత్తో పట్టుకుని ఆమె అందాలను ఆస్వాదించినಕನ್ನಡ ಚಿಕ್ಕ ಹುಡುಗ ಆಂಟಿ ಕಾಮ ಕಥೆಗಳುmamanar marumagal kamakathaikal xossipMsryhi sex.comaunty kamaveri mxtubeಅಕ್ಕನ ತುಲ್ಲು ಕಥೆಗಳುप्यासा बुरজুলী কে চুদাଅନୁରାଧା ଭାଉଜboss.ne.chuti.mareeதம்பிக்காக புண்டை விரித்த அக்காছোট মা চোদার গলপxxx ಕಥೆಗಳುதூக்கம் தெரியாமல் sex videostamil amma mulaiyai sappiya appa l kama kathaiSex ಮೊಲೆ photoSex story ಮಲಯಾಳಂ ಚಿ www bd chotie ssorमाँ की चुदाई ट्यूशन फीस के लिएവാണമടി kadமுடங்கிய கணவருடன் சுவாதியின் வாழ்க்கை – 26anupava sex storiy tamiముసలి మొడ్డஎன்ன நடக்குது இந்த வீட்டில் story downloadविधवा वहिनी बरोबर सेकसी काहनीतेरा लँङ बहुत मोटा हैఅమ్మ నీ దెంగిన కోడుకు ఆంకుల్‌sex পারভিন আপাxxx 2 birtande chudayమీ వాళ్ళ కావటం లేదా దెంగుడుఅమ్మ ను పెళ్లి చేసుకున్న కొడుకు కామ కథలుગુજરાતી સેક્સ સ્ટોરીతెలుగు ఆటి సెక్సు காமக்கதை 2பெண்கள்என் வாயில சுன்னிய வச்சு தேய்ச்சார்…அவலுக்கு நல்ல கூதிsadisuda didi फूली बुरதேவிடியா கனகா ககாமகதைనా పెద్దమ్మతో దెంగులాటassamese porn video kola konimom ke sath maza in train when reservation were full sex storyசூத்த நக்குடா நாயேPanipilla sallu chupinchindi sex mmssex kambi kathagal in malayalamBhauja tolet xxx kadaliIndian Army lady drinks every drop of Officer cum with hot voice.mp4Anna thangai jodi matri kaamakathaiशेतात ठुकाई कथाমাকে লুকিয়ে চুদতে দেখলামநண்பனின் அம்மாவை ஹாஸ்டல் ரூமில் ஓத்த கதைkitchen room re gehiliप्रवीण ने गाड़चोदाdewali per jua khalkar chudai ki kahanimok tamam sudibo mon goiseBHABI LAND CHUSNE KE LIYE BETAB TXXX.comdidi chudi bar dancer bnkrఅక్కకి మొగుడు లేడుcache:paZQORFEy7EJ:https://brand-krujki.ru/posts/2779845/ క్లాస్ లంజనిबहीनीची पुच्ची माझा लंडtamil kutikututha kanavanചേച്ചി അനിയനെ മുട്ട് കുതിച്ചു നിർത്തി മലയാളം കമ്പി കഥകൾlnd ka nipl chusna khani hainsm kaதனிமை கிழவி ஓல்पुच्चीत लंडகணவனை நினைத்து அவனுடன் காமம்bhauja gandi kamudili odia sex storyசுவாதி கட்டாயபடுத்தி kamaxxxhindibiviमेरी चुत को मिला दादाजी का लंडহট চটি পলি পায়েলমাগী ভাড়াபோதை மனத்திரையில் மயக்கி sex videosகண் இல்லாத மனைவி காமக்கதைचूत मिली छत पेஇடுப்பையும் பின்புறத்தையும் அவள்amma mulai la paal kodicha kathaiবা্লা গল্প চটি পড়ার জন্য