पड़ोस के भैया ने तड़पते जिस्म को शांत किया

007

Rare Desi.com Administrator
Staff member
Joined
Aug 28, 2013
Messages
68,486
Reaction score
500
Points
113
Age
37
//tssensor.ru मेरा नाम कल्पना है मैं 24 साल की हु, मेरी शादी पिछले साल ही हुई है, मैं करनाल की रहने बाली हु, दिल्ली में रहती हु, मेरे पति एक कंपनी में मेनेजर है, मैं घूमने फिरने, डांस करने, नॉनवेज स्टोरी डॉट कॉम पे कहानियां पढ़ने, में बहूत मजा आता है, पर जब से मेरी शादी हुई मैं बोर हो चुकी हु, शादी के पहले मेरा कई लड़को के साथ दोस्ती थी पर वो दोस्ती सिर्फ किस और चूचियों को दबाने तक ही सिमित था, शादी के पहले कभी सेक्स नहीं किया था, बस ऊपर ऊपर से ही मजे लिए. मेरा शरीर भरा पूरा है, मैं 34 C साइज की ब्रा पहनती हु, मैं अक्सर जीन्स और टॉप में होती हु, मेरे होठ गुलाबी है, और गाल गोर गोर है, मेरी गांड थोड़ा पीछे की तरफ उभार है, जब मैं चलती हु तो लोग मेरे आगे से मेरी चूचियों को निहारते है क्यों की मेरी चूचियां आगे की और नुकीली सी निकली है. और बहूत ही हॉट है. और जब मैंने गुजर जाती हम तो लोग पीछे से मेरी गांड को निहारते नहीं थकते है. अब तो आपको समझ आ गया होगा की मैं कैसी हॉट और सेक्सी जवानी से भरपूर औरत हु, औरत तो नहीं लड़की कह सकते है, क्यों की अभी तक तो ठीक से मेरी चुदाई भी नहीं हो पाई थी. मैं अब सीधे अपनी सेक्सी कहानी पे आती हु,

मेरा पति जिनका नाम है पंकज, वो मुझे खुश नहीं रख पा रहे है. क्यों की वो मेरे से ज्यादा अपने काम को ही प्रायोरिटी देते है. उनको काम प्यारा है. वो अपने काम से ही ज्यादा बीजी रहते है. वो मेरे ऊपर ध्यान नहीं देते. मुझे चुदवाने का बहूत ही ज्यादा मन करता है. पर वो देर रात आते है और फिर अपना बोतल लेके बैठ जाते है. और फिर सोने चले जाते है. आज तक वो जितनी बार मुझे चोदे है मुझे खुश नहीं कर पाए है. जब मैं उनको कस के पकड़ कर उनका लंड अपने चूत में डलवाने लगती हु, तभी वो झड़ जाते है. यानी की डिस्चार्ज हो जाते है. मैं अभी जोश में ही आती हु और वो निचे उत्तर कर सो जाता है आप भी बताओ दोस्तों मेरी ज़िन्दगी कैसी होगी. जिसकी चूत लंड के लिए तड़प रहा हो और लंड आते ही लंड सो जाए तो उस चूत का क्या हाल होगा. मेरी कहानी यही से शुरू होती है. क्यों की मैं अपना मुह इधर उधर मारने की कोशिश करने लगी.

मेरे फ्लोर पे ही एक भैया रहते है. उनकी भी शादी हो गई है. वो पार्ट टाइम काम मुझे देते है. मैं अपने घर पर आके उनका काम करती हु और दिन में एक से दो घंटे जाके उनसे सहारा काम समझ लेती हु, धीरे धीरे उनकी सेक्सी अदाएं मुझे उनकी और आकर्षित करने लगी. मुझे वो अच्छे लगने लगे. फिर मैंने उनके पास जाती, और उनसे काफी सारे बाते करती, और मैं कोशिश करती की वो मेरी जिस्म को देखे इसलिए मैं हमेशा वैसे टॉप को पहनती जिसका गला बड़ा हो. ताकि चूचियां बड़ी बड़ी साफ़ साफ़ दिखे, मेरा निशाना सही जगह पर लगा. पर हमेशा भी नहीं कर सकती, क्यों की उनकी भी नई नई ही शादी हुई थी. उनकी भी वाइफ साथ रहती थी.

दोस्तों कुछ ही दिन में वो मेरे से काफी ज्यादा खुल गए. वो तो अब मेरे से कभी कभी नॉनवेज डिस्कशन भी करते थे. मुझे भी अच्छा लगता था. उनकी बातों में जादू था. उनकी बात और उनके पास ही बैठ कर मेरी चूचियां टाइट हो जाती थी और चूत हलकी हलकी गीली हो जाती थी. एक दिन की बात है. भैया बोले की आपको भाभी जी, गाँव जा रही है आज उनकी माँ की तबियत ख़राब है. आज शाम को ४ बजे नई दिल्ली से राजधानी ट्रैन है मैं चढ़ा कर आऊंगा. भाभी बोली तब तक आप इधर भी ध्यान देना, मैंने कहा ठीक है भाभी अगर मैं दो की रोटी बनाउंगी तो भैया के लिए भी दो रोटियां सेक दूंगी. और उस दिन भाभी चली गई.

भैया लेट आये, मैंने फ़ोन किया की रोटी बनाया दू तो वो बोले आज मैं अपने दोस्त के यहाँ ही रुकुंगा, आज आ भी नहीं पाउँगा. तभी बेल्ल बजी मेरे पति देव आ गए, आते ही जूता उतारते हुए बोले, की कल सुबह मैं बंगलुरु जा रहा हु, ऑफिस के काम से चार दिन बाद आऊंगा, कंपनी बाले ने हवाई टिकेट भी बना दिया है. जाने आने का, तो वो फिर मुझे पांच हजार रूपये दिए और बोले की ठीक से रहना. दूसरे दिन वो चले गए. अब मेरे घर में मैं अकेली थी और भैया के घर में सिर्फ भैया, पता नहीं मेरा दिल क्यों कह रहा था की आज मैं चुदुंगी, मैं दूसरे दिन संडे था तो मैं उनके घर दिन के ग्यारह बजे ही चली गई. वो नहा कर निकले थे. वो सिर्फ तौलिया में थे. जब मैंने उनके मजबूत बदन को देखा तो मैं दीवानी थी गई. क्या सिक्स पैक था. मुझे तो ऐसा लग रहा था की मैं उनके बदन से लिपट जाऊं और अपनी चूचियां को निकाल कर, उनके सीने से रगड़ दू. मैं अपने आप को संभाल कर, सोफे पे बैठी रही, वो मुझे भाभी कहते है. तो वो बोले और क्या हाल है भाभी तो मैं बोली कैसा रहेगा? पति के वियोग में. भले पति मुझे कुछ नहीं कर पता हो पर ये सब तो आपको पता है बोलना पड़ता है. फिर मैंने भी पूछा और आपका? तो वो बोले की पत्नी के वियोग में क्या होगा? फिर हम दोनों हँसने लगे.

तभी मैं बोल उठी की चलो आज समझ लो मैं आपकी बीवी हु और आप मेरे पति. भैया बोले, सिर्फ बोलने से नहीं होता है भाभी पति पत्नी का रिश्ता तो आपको पता है किससे होता है. मैं बोली कोई बात है. जैसा भी होता हो. लाइफ में चेंजेज तो चाहिए इससे ज़िन्दगी खूबसूरत बन जाती है. दोस्तों आप ये कहानी नॉनवेज स्टोरी डॉट कॉम पे पढ़ रहे है. उसके बाद बात आगे बढ़ गई. वो बोले तो ठीक है आज आप मेरे यहाँ ही रहो पत्नी बनकर, मैं भी बिना देर किये बोल दी ठीक है. भैया बोले अभी कहना मंगवाता हु. उन्होंने कहना मंगवाया बाहर से, हम दोनों मिलकर खाये. तभी भैया बोले और अब. मेरे भी वेशर्म होकर बोल दी. अब हनीमून, तभी उन्होंने मेरे कंधे पर हाथ रख दिया और मैं सिहर गई. और वो मेरे करीब आ गए वो मेरी आँख में झाँक रहे थे और मैं उनकी आँख में, और फिर दोनों के होठ एक दूसरे के होठ से जा मिले और फिर उन्होंने मेरे बाल को खोल दिया., और मुझे अपने सीने से चिपका लिए. मेरी चूचियां दाबाब के कारण आधी निकल गई थी .. वो पहले मेरे चूचियों को ऊपर से ही किश करने लगे. मैंने भी उनके बाल को सहलाते हुए उनके होठ को चूस रही थी. दोनों की वासना धधक रही थी.

वो मुझे गोदी में उठाकर अपने बैडरूम में ले गए और मेरे सारे कपडे उतार कर, वो मेरी दोनों टांगो को फैला कर, मेरे चूत को चाटने लगे. मैं पानी पानी हो गई. वो बोले गजब! मजा आ गया, क्या खुशबु है अपनी चूत की! ओह्ह्ह्ह आज मैं पहली बार चूत को चाट रहा हु. मेरी बीवी चूत नहीं चटवाती है. और मैं चूत का दीवाना हु. मैंने कहा अब तो जब तक वो दोनों नहीं आते आप मेरी चूत को खूब चाटो, मुझे चूत चटवाना बहूत ही ज्यादा अच्छा लगता है. और मेरी चूत से पानी निकलने लगा. और वो सारे पानी को अपने जीभ से साफ़ कर रहे थे. दोस्तों मुझे पहली बार इतना आनंद आ रहा था. मैं खूब मस्त थी. फिर वो ऊपर जाके, मेरे बूब्स को दाबने लगे और मेरे होठ को चूसने लगे. उन्होंने मेरे गर्दन पर एक लव बाईट दे दी. वो काफी जोश में आ गए. मैंने कहा मुझे अब मत तड़पाओ. आज तक मेरा पति मुझे तड़पाते ही आया है. आज तक मैं कभी भी अपने पति से खुश नहीं हो पाई. आज मुझे खुश कर दो,

भैया बोले मुझे गांड ही मारने देना. मेरी वाइफ गांड मारने नहीं देती है. मैंने कहा मेरे जिस्म में जहा जहा भी छेद है आप अपने लंड को घुसा सकते हो. और वो अपना मोटा लंड निकाल कर पहले तो वो मेरे बूब्स के बिच में डाल कर, दोनों चूचियों को आपस में सटा कर, घुसाने लगे. और फिर निचे होकर, अपना मोटा लंड का सूपड़ा मेरे चूत के ऊपर सेट किया, और फिर मेरे पैरों को ऊपर किया और जोर से घुसा दी. मेरी चीख निकल गई. लगा की आज ज़िन्दगी में पहली बार चूत के अंदर लंड गया. दोस्तों उनका लंड मेरे चूत के बिलकुल अंदर तक चला गया था. मुझे थोड़ा दर्द होने लगा क्यों की मेरे पति का लंड इससे आधी है. तो आप समझ सकते हो मेरा क्या हाल हुआ होगा. फिर वो मेरे बूब्स को प्रेस करने लगे मेरे होठ को चूसने लगे. और मेरी चूत में लंड को अंदर बाहर जोर जोर से करने लगे. मैंने भी उनके चुदाई में साथ देने लगी.

करीब दस मिनट तक वैसे चोदने के बाद उन्होंने मुझे डॉगी स्टाइल में कर के पीछे से लंड को मेरे चूत में घुसाने लगे. और हरेक दस सेकंड में मेरे चूतड़ पर मारते, और लंड को जोर जोर से घुसा देते . मैं आह आह आह कर रही थी. मुझे काफी ज्यादा मजा आ रहा था. मैं भी धक्के पे धक्के दे रही थी. फिर वो निचे लेट गए और मैं उनके ऊपर आ गई, मैं उछाल उछाल कर चुदवाने लगी. फिर लैपटॉप चुदाई, यानी को वो बैठ गए और मैं उनके गोद में बैठ गई. और उन्होंने फिर मेरे चूत में लंड घुसा रहे थे. आपको सच बता रही हु. मुझे पहली बार एहसास हुआ की सेक्स इतनी अच्छी होती है. बस आपको सिर्फ चोदने बाला हो.

फिर क्या था दोस्तों चार दिन तक मैं उनके घर ही रही, आपको पता है दिल्ली में फ्लैटों में कौन आ रहा है कौन जा रहा, इससे किसी को क्या मतलब, खूब चुदे चार दिन तक. मजा आ गया ज़िन्दगी. का अब तो जब मौक़ा मिलता है, तब चुद लेती हु. पर वो मुझे किश और मेरे चूचियों को दबाते रोज है. आशा करती हु की आपको मेरी या कहानी अछि लगी होगी.

[Total: 244 Average: 3.2/5]
ये तो ऊपर बाले कहानी से भी ज्यादा सेक्सी है
 

Users Who Are Viewing This Thread (Users: 0, Guests: 0)


Online porn video at mobile phone


ఫ్యామిలీని మొత్తం నాకేసాను Part 1बहिण रोज माज्या लंडाला हात लावत होतीআম্মুকে সেবা করার চটিउसने मेरी गान्ड फार दीখানকি বউ তোর মাকে চোদার গলপକାମିନିର ବିଆஅம்மா குடிசையில் பால் வேனும் காமக்கதைPradnya ki xxx chut video. com కొడుకు మీద కామం కోరికperiya pundai kama veri ulla lediysஅம்மாவை ஓத்த டாக்டர்മഞ്ജുവിന്റെ അനുഭവങ്ങൾఫ్యామిలీని మొత్తం నాకేసాను Part 1సేక్స్ అని ఫిక్స్ అయ్యనుगदि बात चुदाईஅம்மாவின் முலை பா‌ல் செக்ஸ் கதைகள்ரம்யா தங்கை காமம்nahae dekha phr chudai antrvsna hindi storyটাইট ভোদার গাদন পর পুরুস চটিputhiya veetu kamakathaikaldidi ke jhaantey saaf kiஅம்மாவை நான் காமக்கதைகள்chut ma shir dalna 3Gpmami barobar jaberdasti marathi sex storiesகணவரிடம் கிடைக்காத சுகம்தோழிகளை ஓத்தேன்পর্ণ দেখার পর আমরা চোদাচুদি করলামxxx story hindi pnosan ki chudai bur gand me fist timemun genhiki bia fadiliలంజాయణం EPISODE 1നടിയെ നോക്കി വാണം വിട്ടു കഥজোর করে চুদা desi video outdorநண்பன் நான் மனைவி தமிழ் sexy ஸ்டோரில்didi ke jhaantey saaf kiகுடும்ப கமகதைகள்ಕನ್ನಡ ತುಲ್ಲು ತುನ್ನೆকাকী দুধ খাবি বাংলা চিটিதமிழ் முடங்கிய கணவருடன் சுவாதி காமககைள்चुदीत लवडाবোন পিছে ধোন দিলাম চটিअब्बू की शादी रोकने को चुद गईचुत फाड़ने में मजा आया देवर सेsex करते बची देखरी videoপটিয়ে চুদিয়ে নিলകട്ട ഫെറ്റിഷ് കഥകള്Story मौसी की चुदाई की गाँड मारीবাংলা চটি জোর করে উত্তেজনা বারিয়ে চুদলাম ছেলের বউ কেকবিরাজ চোদে মাকে বাংলা চটিमैना मराठी सेक्सी कथाBhaaryade amma malayalam sexstoriSasur ki najar meri chuchi aur javani pr chudai kr di antarvasnaಅಮ್ಮ xissopঅশ্লীল গালি দিয়ে চোদা চুদিবাংলা চটি বোনকে জোর করে চোদাபருவமடையாத புண்டைகூதியை தொட்டுഇൻസെസ്റ്റ് ഉത്സവംஅண்ணனை ஓக்க விட்ட தங்கச்சி காம கதைகள்marumagansexstoryছোট মা চোদার গলপஅம்மா குண்டி வழி விட்டதுஅப்பாவின் கம்பி காம கதைবৌৰ লগত লিলিমাই part 2பிக் பேமிலி காம கதை 10bhomihar bahan ki chudai full storyఈరోజు కూడా నన్నుదెంగడానికి మీ నాన్న వస్తానన్నాడు .அங்கிள் சுன்னியை ஊம்பிഎന്റെ അച്ഛമ്മയുടെ പൂറ്bur dikhanewali hindiहिन्दी सेक्सी कहानी कामवाली को चोदाஅவள் புன்டைआईच्या पुच्चीची कहाणीபள்ளி கூடம் புண்டயைஇடிக்க இடிக்க இன்பம் காமகதைजंगल पुच्ची झवाझवीAnna thangai jodi matri kaamakathaiবাংলা আ ও আওয়াজে sex storyमाझी सील तुटलीsex video গডীen sunni en amma vaailwww bd chotie ssorগুদ মারে দিবি আমারआंटीची पुचीKhuri sex Kora storiesजिम मध्ये आंटी ला झवलेநண்பன் அம்மாவை வெறிகொண்டு ஒத்த வீடியோತುಲ್ಲಿನ ಪರಿಮಳசித்தி நீ கள்ளிடிsexy kamvli bae jvajviகுளத்தில் முதல் காம கதைtamil swathi kalla kadhal sex story