वो इश्क़ जो हमसे रूठ गया - 34

007

Rare Desi.com Administrator
Staff member
Joined
Aug 28, 2013
Messages
68,486
Reaction score
500
Points
113
Age
37
//tssensor.ru उस मैं डूबती हूँ उतना ही था(बसे) से दूर हो जाती हूँ. और मैं चाहती भी नहीं के कोई मुझे उसे समंदर से निकाले मैं बस वहीं डूब के मर जाना चाहती हूँ अब". अभिनव उसकी बातें सुन कर कुछ देर तक उससे डैखहता ही रही गया. इतनी शिद्दत, इतनी गहराई, वो तो सोच भी नहीं सकता था के मीना की रूह इस हद तक वीरेंदर के वजूद से लिपट चुकी है

"मैं ये तो नहीं कहों गा के मुझे दुख हुआ तुम्हारी बातें सुन कर. दिल से मैं भी यही चाहता था के तुम जहाँ रहो खुश रहो. हाँ मगर मैं झूठ भी नहीं बोलों गा तुम से, मैं अपने दिल से तुम्हारी मोहब्बत को निकल तो नहीं सकता और ना मुझे अंदाज़ा था के तुम इस हद तक वीरेंदर से मोहब्बत करती हो. ना ही मैं तुम से इस लिए मिलना चाहता था के मुझे तुम्हारी जिंदगी खराब करनी थी. दुनिया मैं चाहे कोई भी आप को जितना गलत समझे इंसान को परवाह नहीं होती मगर जिस से आप मोहब्बत करते हूँ अगर वो आप को गलत समझना शुरू कर दे तो इस से बड़ी सजा कोई नहीं होती. मैं भी कुछ ऐसी ही सजा काट रहा था था 1 साल से, तुम्हाइन सब कुछ बता कर आज बहुत हल्का महसूस कर रहा हूँ खुद को". आख़िर काफी देर बाद अभिनव ने मुस्कुराते हुए कहा

"कुछ खाने के लिए आर्डर कराईं? मेरे साथ खाना तो खायो गी ना?". अभिनव ने एक आस से उसकी तरफ देखा

"अभिनव, यहाँ आने से पहले शायद मेरे दिल मैं बहुत सारी बातें देन, शायद कहीं ना कहीं मुझे ये भी लग रहा था के वीरेंदर की मज़ूरी का सुन के तुम मेरी किसी कमज़ोरी से फायदा ना उठना चाहते हो. मगर तुम्हारी बातें सुन कर मेरा दिल भी बिलकुल हल्का हो गया है. शायद हमारी किस्मत मैं मिलना नहीं था मगर हम एक नहीं हो सके तो क्या हुआ. अच्छे दोस्तों की तरह जिंदगी मैं कभी कभार मिल तो सकते हैं. बहुत कम लोग होते हैं जो अपने उन गुनाहों की सफाई देते हैं जो उन्होंने नहीं किये होते. मुझे बस इस बात की खुशी है के मैंने किसी गलत इंसान को नहीं छूना था अपने लिए, मैंने जैसा तुम्हाइन समझा था तुम वाक़ई वैसे ही हो. मैं हमेशा दुवा कारों गी के तुम्हाइन भी जिंदगी मैं मुझ से भी ज्यादा अच्छा और प्यार करने वाला साथी मिले". मीना पहली बार दिल से मुस्कराई थी

"और हाँ खाना जरूर खायों गी मैं"

"अगर तुम्हाइन बुरा ना लगे तो मैं जाने से पहले एक बार वीरेंदर सिंग से मिलना चाहता हूँ. तुम उन्होंने सब बता तो चुकी हो, क्या सोचते हूँ गे कैसा इंसान है के उनकी पत्नी के पीछे पड़ा है और इतनी हिम्मत नहीं के उन से मिल सके. उनकी तबीयत का भी पूंछ लूँ गा"

"हाँ जरूर, मेरा भी ख्याल है तुम्हाइन एक बार वीरेंदर से जरूर मिलना चाहिये". मीना ने कुछ सोचते हुए कहा. अभिनव से मिलने के बाद उसके दिल मैं जो खौफ थे वो सब खत्म हो गये थे. और वीरेंदर से मिलने के बाद शायद हमेशा के लिए वीरेंदर का दिल भी साफ हो जाए उसे की तरफ से. अगर वो कुछ सोच भी रहा था तो उससे यकीन था अभिनव से मिलने के बाद उसकी सारी सोचैईन अपनी मौत आप मर जैन गी

******************************

उससे घर फुँचते फुँचते 2 घंटे हो गये थे. वो वीरेंदर को 1 घंटे का कह कर आए थी, मगर वो तो कुछ और ही सोच कर अभिनव से मिलने गयी थी, उससे क्या पता था के अभिनव का जो रूप उसके सामने होगा वो ऐसा होगा के वो चाहते हुए भी सख्ती नहीं कर सके गी उसके साथ

"शमीम, ठाकुर साहब को खाना दे दया था". उस ने आते ही सब से पहले नौकरी से पूछा

"नहीं जी. मैं एक बार गयी थी उन से पूछने मगर बहुत घुसा कर रहे थे मुझे दाँत के कमरे से निकाल दया". उससे पता था यही जवाब मिले गा उससे

"अच्छा ठीक है तुम फौरन खाना गरम कर के उप्पर कमरे मैं ले आओ"

वो कमरे मैं पहुंची तो वीरेंदर अंधैरा किये, बेड पे लेटा हुआ था. उस ने लाइट ऑन कर दी

"आप सो रहे हैं क्या?"

"नहीं वैसे ही लेटा हुआ था". वो वीरेंदर के लहज़े से कुछ अंदाज़ा नहीं लगा सकी के उसका मूंड़ कैसा है

"तब से सो रहे हैं क्या? आप ने खाना भी नहीं खाया"

"नहीं. कुछ देर पहले ही लेटा था, चंदा आए हुए थी कुछ देर पहले ही गयी है"

"चंदा आए थी?". उसके लिए ये खबर हैरान करने वाली थी

"हाँ तुम से मिलने आए थी. वो लोग इस शहर से जा रहे हैं तो जाने से पहले तुम से मिलना चाहती थी"

"तो आप मुझे फोन कर के बुलवा लायटे"

"कहाँ फोन करता? कितनी बार कहा है तुम से फिर भी मोबाइल नहीं लेटी तुम, अब क्या ड्राइवर को कहता के बेगम साहिबा को ले कर आओ?"

"अच्छा खैर है कोई बात नहीं. मैं खरीद लूँ गी मोबाइल, आप नाराज़ ना हूँ"

"यादव को बुलाओ मैं वॉशरूम जाना चाहता हूँ"

"और हाँ, ये कुछ चीज़ाइन हैं तुम्हारी जो चंदा दे गयी थी. बता रही थी के तुम्हारे कमरे की सफाई करते उससे मिली देन, जाने से पहले तुम्हाइन देना चाहती थी". वीरेंदर ने साइड टेबल की दराज़ खोलते हुए कहा

"मेरी कोन सी चीज़ाइन वहाँ रही गाएँ". मीना उसकी बात सुन कर हैरान हो गयी

"मैं जानता हूँ के किसी की पर्सनल डाइयरी पढ़ना बहुत गलत हरकत है. ई आम सॉरी मैं खुद को रोक नहीं सका". वीरेंदर ने उससे उसकी डाइयरीस देते हुए कहा

मीना अपनी जगा पे खड़ी की खड़ी रही गयी. उसके सामने वो डाइयरीस देन जो उस ने उन 3 सालों मैं लिखी देन जब उसके दिल ने अभिनव के नाम पे धड़कना शुरू क्या था. पता नहीं क्या क्या लिखा था उसे ने उसे मैं और वो कह रहा था के उसे ने सब कुछ पढ़ लिया है. मीना को कुछ पल के लिए समझ नहीं आई के वो क्या करे, उससे कुछ कहे, कुछ बताए या नहीं. आख़िर वो डाइयरीस ले कर चुप चाप कमरे से बाहर निकल आई
"ट्रमॅटिक अम्नईषिया" सर पे चोट लगने की वजह से होता है जिस के नतीजे मैं..
 

Users Who Are Viewing This Thread (Users: 0, Guests: 0)


Online porn video at mobile phone


नशे मे ओरत को चोदने के क्ष्विदेओஎன்ன நடக்குது இந்த வீட்டுல காம கதைஎனது அக்கா ஆ விடுடாமனைவி கூட்டம் காம கதைमामा ची मुलगी चावटதமிழ்காமக்கதைகள்বড় বাড়া দিয়ে নিশিকে চুদামাগী ভাড়াಯುವತಿ ಸಂಭೋಗদাদির কনডম কিনা চটিsleeping bhabhi gaoong room on dewarவெயில் காலம் அம்மா காமக்கதைகள்lilabru porn forum২ একসাথে চোদাtamil.kamakadai.wife.विधवा वहिनी बरोबर सेकसी काहनीఅమ్మ .. వచ్చి నా పూకు నాకరాஎன் மாமனாரை ஓத்ததுदेवर से भाभी बोली मेरी मोटे लँड चुदाई करवाओనా పెళ్ళాన్ని నా బెస్ట్ ఫ్రెండ్ దెంగాడుবন্ধুর বউএর পাছাകണ്ണിൽ നിറഞ്ഞൊഴുകി indian sexstoriesஅம்மா காம கதைகள்mamyarai karpamakiya kathaigal tamilஎன் மனைவி என் சுன்னியை அம்மா பார்க்காத அம்மாவின்विधवा वहिनी बरोबर सेकसी काहनीசக்களத்தி ஓல் கதைகள்Talugu sex kathluनंदोई जी का गधे जैसा लंडBoss ne mom ko mere samneसाली आधी घरवाली गोष्टತುನ್ನೆಯ ರಸ ತುಲ್ಲಲ್ಲಿকুমারী ভোদা ছিঁড়ে বীর্য ফেলার গল্পpati ki gair mojoodgi me sasur se chudwaya Mene hindi sex storiesநானும் எனது பள்ளி தோழியும் ஓத்த கதைகள்நந்தவனம் தமிழ் காமக்கதைகள்ரம்யா அக்கா ஓல்choti বাড়ীর বড় বউபாசமான அம்மா காமகதைस्कुल वाली लड्की चुदगईगचा गच पेल रहा था मुझेNangeChutad me ungliबँगाल की लडकियो का सेकसी विडियोভর বোনের সাথে চুদাচুদির গলপ ଶାଲି ଗିହାமனைவியை ஓத்த ஆட்டோகாரன்আমি শয়তান ভাই আমাকে চুদেচটি পরিবারblack pukllu sax fornbangla choti golpo joubaner dheuবুড়ো দাদুর চটিDhudh chusa mjnu n kahaniநொங்கு காமகதைகள்জোর করে পিসীর মেয়ের পাছা চুদাசூத்தில் இறக்கினான்தமிழ் காமகதைகல் மனைவி அலுவலகம்sexi kahani ma suruchiरसीले सेक्सी गरम स्टोरी पंतय ब्रा ट्यूशनfucking vappaty in karalaଗିହା ଗପঅপরিচিত মেয়েকে গালি দিয়ে চোদার চটিmazi pucchichi zavazaviபாட்டியின் முலையை பிடித்து பிசைந்து கொண்டேபக்கத்து வீட்டு ஆண்டியும் நானும்বড় আপুকে চোদার গল্পआईची ठुकाईபுண்டையை மாற்றி போடலாமாkaku chi gand ki dararভিড়ের বাসে মহিলার পাছায় ধন দেয়া চটিXxx lndia बेंबी वाली साडी वालीஅன்புள்ள ராட்சசி tamil sex storieshot sex malayalam stories അടിപൊളി കമ്പി കഥ കൾ পাতানো ভাই চোদাচুদিIndia me dikhanewali sex wapsaidwww.antervasna2.comदेशी छोरी की चूदाई पहली बार बहुत ख़तरनाक तरीके सेmamanar asingama pesunga tamil sex stories